इंटरव्यू
Guneet Monga.

हर रोज सबकी नजर में बने रहना मेरे लिए जरूरी है : गुनीत मोंगा

By आईएएनएस

नई दिल्ली, 6 सितम्बर (आईएएनएस) । शॉर्ट फिल्म पीरियड : द एंड ऑफ सेंटेंस के लिए अकादमी अवॉर्ड हासिल करने वालीं निर्माता गुनीत मोंगा का कहना है कि किसी अवॉर्ड या सम्मान को पाने की योजना उनकी कभी नहीं रही है। यह उनके लिए एक बोनस की तरह है, लेकिन काम में निरंतरता व सबकी नजरों में बने रहना उनके लिए मायने रखती है।

गुनीत ने आईएएनएस लाइफ संग अपने सफर पर बात की।

उन्होंने कहा, मेरे लिए हर रोज सबकी नजरों में बने रहना जरूरी है क्योंकि मैं यथासंभव हर दिन अपना सर्वश्रेष्ठ देने का प्रयास करती हूं - मेरे लिए बस यही मायने रखता है। मैं जिस पेशे में हूं, उसमें किसी एक फिल्म को बनाने में सालों लग जाते हैं। सफर लंबा है, ऐसे में प्रतिदिन अपने काम में अपना बेहतर प्रदर्शन देना जरूरी होता है।

वह आगे कहती हैं, मैं अवॉर्ड्स या सम्मान पाने के बारे में नहीं सोचती हूं। ये मेरे लिए बोनस और लोगों द्वारा अपने काम को स्वीकार किए जाने की एक भावना की तरह से हैं, लेकिन निरंतरता और नजरों में बने रहना जरूरी है।

गुनीत ने यह भी कहा, मुझे खुशी है कि मैंने जिंदगी में काम करना काफी पहले ही शुरू कर दिया था और कहीं न कहीं यह मुझे अलग-अलग ²ष्टिकोणों के लिए बहुत अधिक ग्रहणशील बनाता है जिस वजह से आगे चलकर मुझे अपने पेशे से संबंधित बेहतर निर्णय लेने में मदद मिली है।

उनके मुताबिक, हर दिन चुनौतियों से भरा होता है, लेकिन अपने काम में ध्यान केंद्रित कर आगे बढ़ा जा सकता है। मैं दिल्ली के एक विनम्र परिवार से ताल्लुक रखती हूं और आज मैं जहां भी पहुंची हूं, उसे हासिल करने का उत्साह मुझे इसी पृष्ठभूमि से मिला है। जैसा कि लोग कहते हैं, एक दिन की सफलता के लिए सालों मेहनत करनी पड़ती है। मैं अपने और अपनी बेहतरीन टीम की मेहनत से यहां हूं। अपनी फिल्मों के माध्यम से मैं सीमाओं से परे जाने की अपनी भावना को पेश करती हूं।

--आईएएनएस

एएसएन/जेएनएस